NIT में हॉस्टलर्स को चिट्टा सप्लाई करने के मामले में पुलिस ने नशे के सौदागर किंगपिन अंकुश शर्मा को चंडीगढ़ से धर दबोचा खुलेगे कई राज। ।

हमीरपुर, 02 नवंबर।  यहां NIT में हॉस्टलर्स को चिट्टा सप्लाई करने के मामले में पुलिस ने नशे के सौदागर और मामले के किंगपिन अंकुश शर्मा को बुधवार को चंडीगढ़ से पकड़ा है। अंकुश के बारे में मामले के मुख्य आरोपी रवि चोपड़ा ने पुलिस को जानकारी दी थी। पूलिस पूछताछ में रवि चोपड़ा से ही अंकुश का नाम सामने आया था। रवि और अंकुश की फोन डिटेल, व्हाट्सएप और वित्तीय लेनदेन को खंगालने पर पुलिस को पता चला कि दोनों के बीच नशे को लेकर लंबे समय से डील होती रही है।अंकुश वर्ष 2022 में एनडीपीएस के मामले में दो बार हमीरपुर पुलिस  की हिरासत में रहा चुका है। एक मामला वर्ष 2022 में और दूसरा मामला वर्ष 2023 में दर्ज हो चुका है। अंकुश को आज हमीरपुर कोर्ट में पेश किया जाएगा। अभी तक पकड़े गए सभी आरोपी बीटेक, एमबीए और एमए की शिक्षा हासिल करने वाले निकले हैं। इनमें से कई आरोपी जिले के विभिन्न शिक्षण संस्थानों तक चिट्टा पहुंचाते थे।अंकुश शर्मा और रवि चोपड़ा दोनों दोस्त हैं और लंबे समय से चिट्टा सहित चरस का कारोबार कर रहे हैं और दोनों के खातों में लाखों रूपये का लेनदेन हुआ हैं। रवि चोपड़ा चार नवंबर तक पुलिस रिमांड पर है। सदर थाना प्रभारी हरीश गुलेरिया दोनों दोस्तों से गहन पूछताछ करने में जुटे हैं। पुलिस अधीक्षक डा. आकृति शर्मा ने बताया कि NIT और हमीरपुर जिले  में दोनों मिलकर चिट्टा व चरस (Heroine) की सप्लाई करते आ रहे थे। उन्होंने बताया कि दोनों से पूछताछ में और भी सुराग हाथ लगने की पूरी उम्मीद हैं।